Blockchain Technology Explained in Hindi

 Blockchain Technology Explained in Hindi ब्लॉकचैन टेक्नोलॉजी क्या है पूरी जानकारी हिंदी में

Blockchain Technology Explained in Hindi
आसान भाषा में Blockchain Technology Explained in Hindi यह एक peer-to-peer नेटव्रक द्वारा मैनेज की जाती है जिसमे हर ट्रांसेक्शन एक ब्लॉक के रूप में रिकॉर्ड होता है इसके अंदर ट्रांसक्शन के साथ कुछ यूनिक जानकारी जुडी होती है जो हर बार ट्रांसक्शन होने पर अपने साथ पिछली यूनिक जानकारी को जोड़ लेती है जो एक चैन का रूप लेता जाता है और इसी को Blockchain Technology कहते है
अगर इस ट्रांसक्शन में कोई भी गड़बड़ होती है जिस से वो यूनिक जानकारी अगर मैच ना हो तो वो ट्रांसक्शन वैलिड नहीं होता और ये जानकारी हर ब्लॉक के साथ जुड़ती चली जाती है इसलिए अगर कोई इसमें कुछ बदलाव करने की कोशिश करे तो उसको सारे ब्लॉक्स की जानकारी को बदलना होगा जो बिलकुल भी मुमकिन नहीं

Blockchain Technology काम कैसे करती है ?

Blockchain Technology काम कैसे करती है ? इसको समझने के लिए हम एक example देखते है कि जैसे हमारे पास एक कॉपी है जिसके हर पेज पर कुछ जानकारी है अब उस पेज को आप ब्लॉकचैन और उन पेज को ब्लॉक्स जिसमे हर एक पेज के साथ उसके पिछले पेज की कुछ जानकारी जुडी होती है

अब जब कोई इस में बदलाव करने की कोशिश करे तो उसको उन सभी पेज की जानकारी को चेंज करना होगा क्यूंकि सभी के साथ उनकी पिछली जानकारी भी जुडी हुई होती है जो एक फिंगर प्रिंट की तरह होती है

अगर इसमें बदलाव किया जाए तो फिंगर प्रिंट की जानकारी पिछले वाले से मैच नहीं करेगी और वो बदलाव मान्य नहीं होगा | अब आप कहेंगे के फिर सबकी जानकारी कोई चेंज कर दे तो क्या होगा तो इसका सीधा सा जवाब है की यह मुमकिन न के बराबर है

क्यूंकि यह सुचना किसी एक व्यक्ति या समुदाय के पास नहीं है इसलिए इसको decentralized कहते है और इनको करने के लिए काफी सालो का समय लग जाएगा जो मुमकिन नहीं है इसलिए यह टेक्नोलॉजी ज्यादा सेफ है और पारदर्शी भी

अगर आप जानना चाहते है की क्रिप्टोकरेन्सी क्या है तो आप हमारी पोस्ट Cryptocurrency Kya Hai in Hindi पढ़ सकते है

Leave a Comment